यहां गड्ढे खोद रही हैं IAS की पत्नी, वजह जानकार हो जाएंगे हैरान…

बिहार में आई बाढ़ ने वहां के जन-जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है. खबरों में आजकल बिहार की बुरी स्थिति की तस्वीरें दिखाई जा रही हैं. इन तस्वीरों को देखकर कोई भी सिहर सकता है. जानकार बता रहे हैं कि बिहार में पिछले 50 सालों में कभी ऐसी बाढ़ नहीं आई. बाढ़ की चपेट की जगहों में न कोई नेता पहुंच रहा है और न ही कोई आला अधिकारी इसी बीच एक ऐसी तस्वीर सामने आई जिसे देख हर कोई आश्चर्यचकित रह गया.

Image result for flood in bihar

Source

बिहार के सीतामढ़ी जिला में एक ऐसी महिला है जो बिना चपल पहने नंगे पैर कीचड़ से सने रास्तों पर जाकर लोगों को खाना खिलाती है, तो कभी खुद फावड़ा लेकर पानी निकालने गड्ढे खोदती है. लेकिन जब लोगों ने महिला के बारे में पड़ताल की तो जो पता चला उसे सुनकर हर कोई हैरान रह गया.

यहां गड्ढे खोद रही हैं IAS की पत्नी, वजह जानकार हो जाएंगे हैरान
Source

लोगों की मदद करने वाली यह महिला एक आम महिला नहीं बल्कि बिहार के IAS अफसर अमित जयसवाल की पत्नी रितु जयसवाल है. जो सुबह से शाम तक बाढ़ प्रभावित जगहों पर लोगों की सेवा कर रही है. रितु जयसवाल बिहार के सीतामढ़ी जिले की पंचायत सिंहवाहिनी की मुखिया भी हैं.

यहां गड्ढे खोद रही हैं IAS की पत्नी, वजह जानकार हो जाएंगे हैरान
Source

 

जब सरकार दौरा कोई मदद  नहीं मिली तो ऋतू ने अपने फेसबुक पेज पर सरकार से मदद मांगते हुए लिखा “सिंहवाहिनी बाढ़ की चपेट में है यह की सड़क मार्ग से संपर्क टूट चुका है. सरकार से हमने कई बार मदद मांगी, लेकिन केवल आश्वासन मिला “. बाढ़ पीड़ितों की परेशानियों को लेकर रितु लगातार फेसबुक पर पोस्ट कर रही हैं.

यहां गड्ढे खोद रही हैं IAS की पत्नी, वजह जानकार हो जाएंगे हैरान
Source

रितु की स्कूलिंग बिहार के वैशाली के सेंट पॉल स्कूल से हुई है. स्चूलिंग करने के बाद उन्होंने वैशाली महिला कॉलेज से BA इन इकोनॉमिक्स किया था. रितु की ऑफिशियल वेबसाइट के मुताबिक, “शादी के बाद जब कई सालों बाद वे अपने पैतृक गांव नरकटिया पहुंची तो वहां के हालात देख बेहद दुखी हुई”.

यहां गड्ढे खोद रही हैं IAS की पत्नी, वजह जानकार हो जाएंगे हैरान
Source

शादी के बाद रितु सिंहवाहिनी आ  गयी थी और कुछ लड़कियों को पढ़ाना शुरू किया था. यह रितु की ही मेहनत थी जिसके चलते साल 2015 में नरकटिया गांव से 12 लड़कियां पहली बार मैट्रिक की परीक्षा में पास हुई थी. इसके बाद रितु ने साल 2016 में बिहार के सिंहवाहिनी से पंचायत मुखिया का चुनाव लड़ी थी और 32 उम्मीदवारों को हराते हुए चुनाव जीती थी.रितु को उच्च शिक्षित मुखिया का अवॉर्ड भी मिल चुका है. साथ ही उन्हें पंचायत के विकास के लिए भी कई अवॉर्ड मिले.

यहां गड्ढे खोद रही हैं IAS की पत्नी, वजह जानकार हो जाएंगे हैरान
Source

 

 

 

 

R नाम शुरु होने वाले व्यक्तियों के लेकर हुआ बड़ा खुलासा, Video देखें जब ज्योतिष ने कहा…

इतना तो सभी लोग जानते है हर इंसान की पहचान उसके नाम से ही होती है। मनुष्य के धरती पर जन्म लेने के बाद ही उसका नामकरण संस्कार होता है। जिसके बाद पंडित के अनुसार उसका नाम रखा जाता है।फिर उस बच्चे को सभी लोग उसी नाम से पुकारते है।यहां तक की स्कूल , कॉलेज  हो सभी जगह उसका व्यक्ति का नाम लिखना जरुरी होता है।इंसान  ही नही बल्कि पक्षी जानवर सभी तरह की वस्तुओं के अपने अपने नाम होते है।

source

आपने कभी देखा भी होगा जब खूब सारें लोग इक्कठा बैठ कर किसी के बारे में बातें कर रहें हो तो हम उस व्यक्ति के नाम सुनकर अंदाजा लगा सकते है कि यहां बैठे लोग किसके बारें में बातें कर रहें है।घर में भी यदि किसी काम से परिवार वालें किसी को अपने पास बुलाते है तो वह भी उसके नाम लेकर संबोधित करते है।क्योंकि नाम से ही इंसान की पहचान होती है।

source

मनुष्य को अपने बच्चों को नाम भी ऐसे रखने चाहिए जिनका कोई मतलब निकले। आज के युग कोई भी कुछ भी अपने बच्चों का नाम रख लेता है। जबकि उसके नाम का कुछ अर्थ ही नही होता है। हर व्यक्ति के जीवन में नाम की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होती है।यदि वह कही बड़ा होकर कही बहार नौकरी करने जाते है तो उसे वहां के कल्चर में भी अपने नाम को लेकर असहज महसूस ना हो इसीलिए उसका नाम भी सही तरह से ऱखा जाना चाहिए।

source

ज्योतिष के अनुसार कहां जाता है जैसा इंसान का नाम होता है वह वैसा ही काम करता है। हर नाम के अलग-अलग अर्थ होते है।यह बात शायद ही कोई जानता होगा कि हर व्यक्ति के नाम का पहला शब्द भी उस व्यक्ति के जीवन की पहचान कराता है। इतना ही नही बल्कि इंसान क चरित्र की भी पहचान कराता है। हम जो बात कर रहें है वह R नाम से जुड़े व्यक्तियों के बारें मे है जो कि उस सभी लोगों को जानना जरुरी है जिनका नाम का पहला शब्द R से शुरु होता है।

source

नीचे दिए गये वीडियो में देखें आखिर कैसे होते है R नाम से शुरु होने वाले व्यक्ति और क्या लिखा है उनके जीवन के परिचय में…

देखें वीडियो

आपके हाथों में भी है ऐसा ‘X’ का निशान तो इसके पीछे छुपा है यह गहरा राज़!

ज्यातिष विद्या एक ऐसी विद्या है जिसमें कई तरह से इंसान का भविष्य बताया जाता है और कई मायनों में इसे प्रमाणिक भी माना जाता है. हस्तरेखा ज्योतिष का भी अपना महत्व है. हस्तरेखा ज्योतिष में हथेली की बनावट और उसमें पायी गयी रेखाओं के आधार पर भविष्यवाणी की जाती है|

हस्थरेखा पाठन में भी ज्यातिषियों का मानना है कि पुरुष की दाएं और महिला की बाएं हाथ की रेखाएं देखी जाती हैं. आपने भी कई बार अपनी हस्थ रेखाएं किसी ज्योतिषी को दिखाई होगी और आपने भी ध्यान दिया होगा कि आपकी हथेली पर कई रेखाएं और कई तरह के निशान बने होते हैं और उन्हें देख कर ही ज्योतिष आपको बातें बताता है. इससे सम्बंधित आपके भी दिमाग में बहुत से सवाल होगें. आइये जानते हैं हस्त रेखा से जुड़ी ऐसी ही कुछ अनजाने तथ्यों के बारे में|

अगले पेज पर पढ़िए क्या होती है हस्त रेखाएँ

आपके नाखूनों पर बने है ऐसे निशान तो समझ जाइये कि आपको होने वाली है…

हाथों की लकीरों को आप के भविष्य का दर्पन माना जाता है. हाथों की लकीर देख कर हस्त रेखा विशेषज्ञों को भविष्य की होने वाले घटनाओं कि तरफ़ इशारा करते हुये आप ने बहुत बार देखा होगा. सिर्फ़ हाथों की लकीरें ही नहीं, अनेको राज़ आपकी हथेली पर भी छिपे होते हैं। जैसे हाथों की उंगलियों के आकार से आप के स्वभाव के बारे मैं पता चलता है, वैसे ही उंगलियों के नाखून पर बने निशान भी काफ़ी कुछ कहते हैं .

source

नाखूनों के निचले हिस्से में आधा चांद बना हुआ होता है, जो की नाखून के बाकी हिस्सों से कुछ ज़्यादा सफ़ेद होता हैं। क्या आपने कभी सोचा है , आखिर ये आधा चांद क्यों बना हुआ होता है? वास्तविकता ये है कि ये आधा चांद नाखून का अहम हिस्सा होता है। इस आधे चांद वाले हिस्से को लाटिन भाषा में “Lunula” कहते हैं । हिंदी में इसे छोटा चांद कहते है। ये Lunula सिर्फ़ डिज़ाइन नहीं , Lunula आपके स्वास्थ्य के विषय मैं काफ़ी राज़ खोलता है।

source

चीन के पारम्परिक स्वास्थ्य समुदाय का मानना है की Lunula किसि व्यक्ती के स्वास्थ्य का मापदंड होता है। ये आधे चांद की स्थिति आपके स्वास्थ्य का बेरोमिटर होता है। आप जब पुर्ण रूप से स्वस्थ नहीं होते हैं तो Lunula आप के नाखूनों से गायब हो जाता है स्वास्थ्य जब सही नहीं चल रहा होता या व्यक्ती बीमार होता है तो उस स्थिती मैं ये लगभग नाखून से गायब हो जाते हैं एवं स्वास्थ सही होने पर ये पुन: प्रकट हो जाते हैं

 

अगले पेज पर जानिये आधे चांद क्या कहते हैं आपके स्वास्थ्य के बारे में

जब साधारण से फरियादी की तरह अफसरों के सामने पहुँचे डीएम, तो अफसरों ने डीएम को कर दिया ऑफिस से बाहर

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आते ही कानून व्यवस्था में बदलाव दिखने लगा है। सीएम योगी ने कानून व्यवस्था को लेकर सबको सावधन कर दिया है, अब न तो लापरवाह अफसरशाही चलेगी और न ही कनून से कोई समझौता किया जायेगा।

http://admin.kvsamachar.com/newsphoto/20163331556120.JPG
source

उत्तर प्रदेश का हर अधिकारी व जिम्मेदार विभाग अब अपनी रौब नही झाड़ पाएगा। हर पिछली सरकारों में जिस तरह कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े होते रहे हैं वह किसी से छिपा नही है। आज प्रदेश में योगी की सरकार है और वह पिछली सरकार की तरह लापरवाह अफसरशाही नहीं चाहती है।

http://spiderimg.amarujala.com/assets/images/2016/09/30/990x460/dm_1475257036.jpeg
source

एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने सबको चौंका के रख दिया। जब आम आदमी की तरह ऑफिस के लेखा विभाग में पहुंचे डीएम साहब को यहां के सरकारी बाबू पहचान तक नही पाए। वहाँ मौजूद बाबू ने तो उनके साथ ‘सेटिंग’ शुरू कर दी।

अगले पेज पर पढ़ें जब AIS ने उठाया बडा कदम

एक फैसला पड़ गया भारी जिस वजह से भारत के राज्य का सीएम बन चुका है कुली ?

भारत देश में आपको ना जाने कितने ऐसे व्यक्ति मिल जायेंगे | जो फर्श से अर्श तक पहुंचकर भारत देश का नाम रोशन किया है | जहाँ व्यक्ति ने अपने हौसलों की वजह से असमान को छू लिया है | चाय बेचने वाला देश का प्रधानमंत्री बन सकता है | बचपन में अखबार बेचने वाला एक लड़का देश का राष्ट्रपति बन सकता है |  अन्ना आंदोलन में नारे लगाने के बाद एक व्यक्ति दिल्ली का मुख्यमंत्री बन सकता है | पेट्रोल पंप पर काम करने वाला एक आदमी आज पूरे भारत को पेट्रोल देने का माद्दा रखता है |

भारत देश के इस राज्य के मुख्यमंत्री अब कुली बन जायेंगे | इसके लिए उनकी कैबिनेट के मंत्री भी उनके साथ कुली बन जायेंगे | इस राज्य के मुख्यमंत्री कुली किसी के दबाब में नहीं बन रहे है | मुख्यमंत्री खुद अपने फैसले से कुली बन रहे है |

source

अगले पेज पर जानें मुख्यमंत्री के मजदूर बनने का कारण 

शमशान के आसपास अक्सर क्यों मंडराती है ये खूबसूरत लड़की, जाने सच्चाई

हैदराबाद की रहने वाली एक लड़की आजकल एक अलग ही वजह से चर्चा में है। इसका नाम श्रुति रेड्डी है। यह लड़की  सॉफ्टवेर डेवलपर है। लेकिन ये लड़की सॉफ्टवेयर डेवलपिंग का काम छोड़ एसा काम करने लगी है। कि जिसने भी इसके काम के बारे में सुना उसे इस पर यकीन नहीं हो पा रहा है।

इस लड़की ने वेडिंग प्लानिंग की तर्ज पर मौत के बाद होने वाले अंतिम क्रियाक्रम यानि की फ्यूनुरल प्लानिंग का काम शुरु किया है। इस काम को ये लड़की बहुत शिद्दत और दीवानगी की हद तक कर रही है। इस काम को करने से इस लड़की की बहुत आलोचना भी हुयी है।

जीवन में अगर सफल होना है तो घर से निकलने से पहले करे ये काम

जीवन में अगर सफल होना है तो घर से निकलने से पहले करे ये काम

ऐसा हम सभी के साथ होता है, जब हम घर से बाहर निकलते हैं तो पूरा दिन बित जाता है पर कोई काम नहीं बन पाता। ऐसे में मुंह से बस यही निकलता है कि आज का तो दिन ही खराब था। मगर कुछ ऐसे उपाय हैं, जिन्हें अगर आजमाएं तो आपके सभी बिगड़े काम बन जाएंगे। इसके लिए घर से निकलते समय आपको दिन के हिसाब से ये चीजें करनी होंगी-

शुरुआत सोमवार से करते हैं। इस दिन आप घर से निकलें तो शीशे में अपना चेहरा देखकर निकलें, आपका काम जरूर पूरा होगा।

वैसे तो किसी भी काम से पहले गुड़ खाना शुभ माना जाता है, मगर मंगलवार को खास तौर से यह करें। गुड़ की मिठास से आपका दिन भी खुशनुमा हो जाएगा।

बुधवार को अगर किसी खास काम से घर से बाहर निकल रहे हैं तो धनिया की पत्ती खाकर निकलें। ऐसा करने से आपको जरूर सफलता मिलेगा। आजमा के देख लीजिए।

बृहस्पतिवार के दिन पीले रंग के वस्त्र पहनने के साथ-साथ जीरा खा कर भी निकलें। दिन शुभ जाएगा और आप अपने काम में भी सफल होंगे।

गुड़ की तरह हर शुभ काम के लिए दही भी खिलाई जाती है, मगर शुक्रवार को खासकर दही खा कर निकलें। फिर आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है।

शनि भगवान के दिन यानि शनिवार को अदरक खा कर जाएं। इसे खाने से आपकी राह की सारी बाधाएं दूर हो जाएंगी और आपको काम में सफलता मिलेगी।

छुट्टी यानि रविवार के दिन घर से निकलते समय पान खा कर निकलें। आपका काम जरूर पूरा होगा।